Movie prime
कल है नागपंचमी जानिये पूजा विधि
 

श्रावण मास की शुक्ल पंचमी को मनाई जाती है। इस साल नागपंचमी 2 अगस्त मंगलवार को है। इस दिन नागों की पूजा की जाती है और दूध से उनका अभिषेक किया जाता है। इस दिन शिव भक्त नागों की पूजा करते हैं, उन्हें दूध पिलाते हैं और आशीर्वाद लेते हैं। नाग को भगवान शिव शंकर ने अपने गले में धारण किया है, इसलिए इस दिन नाग देवता के साथ-साथ शिव जी की पूजा करनी चाहिए।

इस दिन नाग देवता की पूजा करें और उन्हें दूध, मिठाई और फूल चढ़ाएं।नागपंचमी के दिन पूजा के समय नाग पंचमी मंत्र का जाप करना चाहिए।जिनकी कुंडली में राहु-केतु भारी है। वे लोग इस दिन नाग देवता की पूजा करते हैं। ऐसा करने से कुंडली में आने वाली परेशानियां दूर हो सकती हैं।इस दिन इस बात का ध्यान रखें कि पीतल के बर्तन से शिवलिंग या नाग देव को दूध अर्पित करना चाहिए। जल चढ़ाने के लिए तांबे के बर्तन का प्रयोग करें।और 'नागेन्द्र हाराय ॐ नम: शिवाय' मंत्र का  जाप करें।