Movie prime
अंकिता केस :अंकिता को जलाने के लिए सबसे ज्यादा साजिश दिमाग देने का काम शाहरुख़ के दोस्त नईम ने किया
 

दरअसल ,शाहरुख़ तो असली दोषी है ही लेकिन इन सभी को अंजाम देने के लिए शाहरुख़ को जिसने दिमाग दिया उसका नाम नईम है। वहशाहऱुख का दोस्त है। उसने ही पेट्रोल खरीद कर दिया था। और शाहरुख़ को अंकिता को जलने के लिए उकसाया भी था। दोनों ने मिलकर क्रिमिनल वाली साजिश की और अंकिता की जान लेली। अंकिता की उम्र 15 साल थी। वह आईपीएस बनना चाहती थी। लेकिन उसका सपना अधूरा रह गया। बताया गया है की नईम इससे पहले भी एक लड़की को अगवा कर चूका है और उसे दुबई में बेचने की धमकी भी दे चूका है उसे इस केस में जेल भी हुई थी लेकिन फिर वह जमानत से छूट गया और उसके बाद फिर उसने लोगो को अगवा करना और धमकाना सुरु कर दिया। शाहरुख़ और नईम दोनों को कड़ी से  होनी चाहिए।